• 308,501 lifetime views
Cart

India

दीवानों की हस्ती (Deewano ki Hasti) | Vasant | Difficult Word Meaning | Class VIII

दीवानों: अपनी मस्ती में रहने वाले हस्ती: अस्तित्व मस्ती: मौज आलम: दुनिया उल्लास: ख़ुशी जग: संसार छककर: तृप्त होकर भाव: एहसास भिखमंगों: भिखारियों स्वच्छंद: आजाद निसानी: चिन्ह उर: ह्रदय असफलता: जो सफल न हो भार: बोझ आबाद: बसना स्वयं: खुद Advertisements

Advertisements

Deewano ki Hasti दीवानों की हस्ती | Summary-Explanation | Vasant | Class VIII

Author Introduction लेखक   –  भगवतीचरणवर्मा जन्म   –  30 अगस्त 1903 मृत्यु   –  5 अक्टूबर 1981 Introduction – पाठ प्रवेश इस कविता में कवि ने अपने प्रेम से भरे हृदय को दर्शाया है क्योंकि कवि का स्वभाव बहुत ही प्रेमपूर्ण है। सभी संसार के व्यक्तियों से वह प्रेम करता है और Read more…